जर्मन-इजरायली लड़की को निर्वस्त्र कर परेड निकालने वाले हमास आतंकी का काम तमाम, IDF ने ऐसे लिया बदला

0
40
IDF kills Hamas terrorist who paraded naked German-Israeli girl
IDF kills Hamas terrorist who paraded naked German-Israeli girl

पिछले महीने 7 अक्टूबर को इजरायल पर हुए हमले के बाद एक वीडियो सबसे ज्यादा वायरल हुआ था. उस वीडियो को देखने के बाद पता चला था कि हमास के आतंकियों ने इजरायल में किस कदर कोहराम मचाया. वहां के लोगों के साथ कितना वीभत्स सलूक किया गया. इस वीडियो में एक जर्मन-इजरायली लड़की को निर्वस्त्र करके ट्रक में कई आतंकियों ने दबोच रखा था. ‘अल्ला हू अकबर’ का नारा लगाते हुए आतंकी ऐसे खुश हो रहे थे जैसे कि कितनी बड़ी उपलब्धि हासिल कर ली हो. इस वीडियो को जिसने भी देखा अपने आसूंओं को रोक नहीं पाया. इस दरिंदगी को अंजाम देने वाले आतंकियों में से एक आतंकी को इजरायल डिफेंस फोर्सेस ने मार गिराया है.

 

हमास के आतंकियों की हैवानियत का शिकार हुई इजरायली लड़की का नाम शानी लाउक था. उसकी मां रिकार्डा लाउक के हवाले से एक अमेरिकी पत्रकार रब्बी शुमली ने दावा कि है कि इजरायली सेना ने हमास के उस आंतकी को मार गिराया है, जिसने उनकी बेटी के साथ जानवरों जैसा सलूक किया था. ब्रिटेन के मशहूर न्यूज कंट्रीब्यूटर ऑयल लंदन ने एक्स (ट्विटर) पर लिखा है, ”आईडीएफ ने जर्मन-इजरायली महिला शानी लाउक के शव को गाजा की सड़कों पर घुमाने वाले एक आतंकी को मार डाला है. उनकी मां रिकार्डा लाउक ने विश्व प्रसिद्ध पत्रकार रब्बी शुमली को बताया है कि आईडीएफ ने उन्हें सूचित किया था कि उन्होंने उस आतंकवादी को पकड़ लिया है.”

 

बताते चलें कि शानी लाउक जर्मनी की रहने वाली एक टैटू आर्टिस्ट थी. वो इजरायल में नोवा म्यूजिक फेस्टिवल में शामिल होने आई थी. हमास के आतंकियों ने इजरायल में घुसपैठ के बाद स्थानीय लोगों को बंधक बनाना शुरू कर दिया था. उसी दौरान उनके हाथ शानी भी लग गई. आतंकी पहले उसे बंधकर बनाकर गाजा ले गए. फिर वहां उसके साथ कथित रूप से गैंगरेप किया गया. उसके बाद बर्बरता पूर्वक उसकी हत्या करने के बाद निर्वस्त्र करके परेड निकाला गया. इस दौरान आतंकी और आम लोगों को उसके ऊपर थूकते हुए भी देखा गया था. शानी की चचेरी बहन तोमासिना वेनट्रॉब लाउक ने उसका वायरल वीडियो देखने के बाद उसकी पहचान की थी. 

 

हमास के ‘रॉकेट मैन’ को आईडीएफ ने किया ढेर

 

इजरायल और हमास के बीच पिछले एक महीने से जंग चल रही है. इजरायल का दावा है कि युद्ध अब निर्णायक मोड़ पर पहुंच चुका है. हमास के 20 अधिक बड़े कमांडर और 1000 से अधिक आतंकवादी मारे जा चुके हैं. इसी कड़ी में इजरायली सेना ने आज हमास के ‘रॉकेट मैन’ कहे जाने वाले खतरनाक आतंकी मोहसिन अबू जिना को खत्म कर दिया है. अबू जिना हमास की रॉकेट फैक्ट्री का हेड था, जहां एक से बढ़कर एक अत्याधुनिक रणनीतिक हथियार और रॉकेट विकसित किए जाते थे. इजरायल में 7 अक्टूबर को हुए हमास के आतंकी हमले में उसकी अहम भूमिका थी. उसके बनाए रॉकेट से हमास से इजरायल का सबसे ज्यादा नुकसान किया था. 

 

अल-शिफा अस्पताल को बनाया आतंकी अड्डा

आईडीएफ ने आतंक का कमांड सेंटर बन चुके अल-शिफा अस्पताल को भी अपने कब्जे में ले लिया है. अमेरिका ने खुफिया जानकारी के आधार पर पहले ही ये साफ कर दिया था कि अल-शिफा के नीचे हमास का कमांड कंट्रोल सेंटर है. जब इजरायली सेना इस अस्पताल में दाखिल हुई तो एक खास हिस्से में उसने सर्जिकल ऑपरेशन किया. सीसीटीवी कैमरों पर हमास ने टेप लगा रखा था. एमआरआई रूम में मशीन के पीछे एक बैग में एके-47 राइफल, ग्रेनेड और राइफल की मैगजीन रखी हुई थी. अलमारी में कपड़े से ढक कर असॉल्ट राइफल रखी गई थी. शेल्फ में जहां दवाइयां होनी चाहिए वहां भी हथियार और कारतूस रखे हुए थे. इसके पास ही हमास की पूरी मिलिट्री किट मिली थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here