कौशांबी: युवती को सरेआम कुल्हाड़ी से काटा, आरोप- रेप केस वापस न लेने पर की हत्या

0
342
Girl murdered in Kaushambi for withdrawing rape case
Girl murdered in Kaushambi for withdrawing rape case

उत्तर प्रदेश के कौशांबी जिले से दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है. रेप पीड़िता युवती की दिन दहाड़े सड़क पर कुल्हाड़ी से काट कर मौत के घाट उतार दिया गया है. रेप के आरोपी भाई ने घटना को अंजाम दिया है. हत्या कर आरोपी मौके से फरार हो गया है. वहीं, हत्या से इलाके में सनसनी फैल गई है.

 

बताया जहा रहा है कि आरोपी रेप मामले में समझौता का दबाव बनाया जा रहा था, जिस पर रेप पीड़िता ने इनकार कर दिया. उसी खुन्नस में हत्या कर दी गई. घटना की सूचना मिलते ही पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया. मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है. युवती की मौत से परिजनों में कोहराम मचा हुआ है. पुलिस फरार आरोपी युवक की छानबीन में जुटी हुई है.

घटना महेवाघाट इलाके के ढेरहा गाव की है, जहां गांव का रहने वाला एक परिवार नदी से मछली मारकर अपना भरण पोषण चलता है. आरोप है कि पीड़ित की एक बेटी के साथ गांव के ही रहने वाले (पवन निषाद ) ने कई महीने पहले रेप किया था. इस मामले में महेवाघाट पुलिस ने पीड़िता की तहरीर पर आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर आरोपी पवन निषाद को जेल भेज दिया था.

 

बताया जा रहा कि 15 दिन पहले ही पवन निषाद जेल से छूटकर वापस घर आया था. जिसके बाद पवन और उनका बड़ा भाई अशोक निषाद ने पीड़िता युवती और उसके परिजनों पर मुकदमे में सुलह करने का दबाव बनाया, लेकिन युवती ने सुलह करने से इनकार कर दिया.

सोमवार को पीड़िता घर से कुछ ही दूर पर चौराहे पर कुछ सामान लेने गई हुई थी और सामान लेकर अपने घर वापस आ रही थी. तभी रेप के आरोपी भाई अशोक निषाद ने पीछे से सरेआम सड़क पर रेप पीड़िता युवती को कुल्हाड़ी से कई वारकर उसकी हत्या कर दी.

स्थानीय लोगों के मुताबिक, गांव की सड़क पर पीड़िता को बचाने की हिम्मत किसी ग्रामीण को नहीं हुई. हत्या के बाद युवती ने मौके पर ही तड़प-तड़पकर दम तोड़ दिया. आरोपी भाई बेखौफ होकर गांव से फरार हो गए. घटना की सूचना पर पहुंची थाना पुलिस ने लाश को कब्जे मे लेकर कानूनी कार्रवाई शुरू कर दी है. वहीं, घटना की जानकारी मिलते ही एसपी बृजेश श्रीवास्तव एएसपी समर बहादुर भारी फोर्स के घटना स्थल पहुंचकर जांच पड़ताल कर फरार आरोपी की तालाश में जुट गई है.

स्थानीय लोगों के मुताबिक, अशोक निषाद कुछ महीने पहले जेल से हत्या के एक मामले में और पवन 15 दिन पहले रेप के मुकदमे में जमानत पर रिहा होकर आया था. जिसके बाद से आरोपी लगातार मृतक युवती के परिवार पर मुकदमे में सुलह का दबाव बना रहा था. परिवार के दबाव मे न आने पर हत्या की घटना को अंजाम दिया गया.

एसपी ने क्या कहा?

वहीं, इस मामले में एसपी बृजेश कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि थाना महेवाघाट के ढेरहा गांव में एक ही बिरादरी के दो पक्षों के बीच में पुरानी रंजिश मुकदमेबाजी को लेकर आपस में विवाद हुआ, जिसमें एक पक्ष के लोग दूसरे पक्ष के लोगों ने 20 वर्षीय युवती पर धारदार हथियार से हमला कर दिया. इसमें महेवाघाट पर सुसगंत धाराओं में मुकदमा दर्ज किया जा रहा है. आरोपी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here