केदारनाथ दुर्घटना का LIVE वीडियो आया सामने, अब ये निर्देश भी हुए जारी

0
5050
LIVE video of Kedarnath accident surfaced, now these instructions have also been issued
LIVE video of Kedarnath accident surfaced, now these instructions have also been issued

उत्तराखंड राज्य के केदारनाथ धाम में कुछ दिनों पहले एक बेहद ही दुखद और दर्दनाक हादसा हो गया था. जिसमें की हेलीकॉप्टर की पिछली ब्लेड से कटकर रुड़की के रहने वाले यूकाडा के वित्त नियंत्रक अमित सैनी की मौत हो गई. अमित सैनी जब हेलीकॉप्टर के पीछे से घूम कर आ रहे थे उसी वक्त यह हादसा हो गया. उस वक्त उस जगह पर बहुत से लोग मौजूद थे जो कि हेलीकॉप्टर की वीडियो बना रहे थे.

जिस कारण यह दर्दनाक हादसा वीडियो में कैद हो गया. अमित सैनी की मौत के बाद से यूकाडा ने हेलीकॉप्टर कंपनियों को हेलीकॉप्टर में चढ़ते और उतरते वक्त यात्रियों की सुरक्षा के लिए बहुत ही सख्त निर्देश दिए गए हैं. यूकाडा की ओर से जारी दिशानिर्देश के अनुसार हेलीपैड पर बोर्डिंग से पहले हेलीकॉप्टर कंपनी के द्वारा यात्रियों को सुरक्षा संबंधित सारे निर्देश दिए जाएंगे. हेलीकॉप्टर में चढ़ते और उतरते वक्त यात्रियों की सुरक्षा के लिए हेलीकॉप्टर कंपनी मार्शलिंग और ग्राउंड स्टाफ की तैनात करेगी और हेलीकॉप्टर में यात्री सुरक्षा ब्रीफिंग कार्ड उपलब्ध कराए जाएंगे.

हेलीकॉप्टर में यात्रियों का सीट बेल्ट लगाना अनिवार्य है जिसके बारे में यात्रियों को सीट बेल्ट खोलने और बांधने की प्रक्रिया की जानकारी दी जाएगी. हेलीकॉप्टर में एयर सिकनेस बैग होने के साथ ही यात्रियों को उसका प्रयोग कैसे करना है यहां भी बताया जाएगा तथा आपात स्थिति में हेलीकॉप्टर से कैसे उतरना है यह भी यात्रियों को बताया जाएगा. ऑपरेटर के द्वारा यात्रियों को या जानकारी भी दी जाएगी की हेलीकॉप्टर में खुली वस्तुएं ले जाना मना है क्योंकि यहां वस्तुएं हवा में उड़ सकती है. टेल रोटर के नीचे कैप, स्कार्फ ले जाने की अनुमति नहीं है

साथ ही हेलीकॉप्टर से संपर्क न करने की यात्रियों को सख्त चेतावनी दी जाएगी. हेलीकॉप्टर सेवा में जाने वाले यात्रियों को बोर्डिंग से पहले चित्र के माध्यम से हेलीकॉप्टर के पीछे ना जाने की जानकारी दी जाएगी. ताकि यात्री आसानी से समझ सके कि हेलीकॉप्टर के पीछे की तरफ जाना कितना ज्यादा जोखिम भरा हो सकता है. हेलिकाप्टर में प्राथमिक चिकित्सा किट भी उपलब्ध कराई जाएगी. हेलिपैड के प्रतीक्षालय में साइनेज लगाकर सुरक्षा संबंधित जानकारी प्रदर्शित की जाएगी.

अगर हेलीकॉप्टर कंपनी यात्रियों की सुरक्षा को लेकर मानकों का उल्लंघन करती है तो उस कंपनी को ब्लैक लिस्ट कर दिया जाएगा.डीजीसीए को भी इस संबंध में सूचना दी जाएगी. यूकाडा ने सभी हेलीकॉप्टर कंपनियों को सुरक्षा संबंधी मानकों का सख्ती से पालन करने का निर्देश भी दे दिया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here