उत्तराखंड: सात साल तक रुपए जमा कर पोता दादी को लाया तीर्थयात्रा पर

0
19
After collecting money for seven years, grandson brought grandmother on pilgrimage
After collecting money for seven years, grandson brought grandmother on pilgrimage

चार धाम की यात्रा शुरू हुई है लाखों की संख्या में तीर्थयात्री चारधाम की यात्रा करने जा रहे हैं. प्रशासन द्वारा यात्रियों की सुरक्षा व्यवस्था का भी पूरा ध्यान दिया जा रहा है. इसी बीच दिल को छू जाने वाली एक खबर सामने आ रही है. एक युवक 7 साल पहले चार धाम की यात्रा करने पहुंचा था. यहां यात्रा करके जो उसे सुखद अनुभव हुआ उसके बाद उसने यह प्रण लिया कि वह अपनी दादी को चार धाम की यात्रा कराने जरूर आएगा और अब 7 साल के बाद वह अपनी दादी को चार धाम की यात्रा कराने के लिए पहुंचा है.

अंकारी से पता चलता है कि युवक का नाम अशोक कुमार है. की आयु 24 वर्ष है. कुमार आंध्र प्रदेश के अनंतपुर का रहने वाला है. अशोक कुमार एक ढाबे पर नौकरी करता है. साल 2016 में अशोक कुमार बद्रीनाथ की यात्रा पर आया था. अशोक कुमार ने अपनी यात्रा लिफ्ट मांग कर पूरी की थी. लोगों ने उन्हें बद्रीनाथ की यात्रा के बाद केदारनाथ की यात्रा करने को कहा. जिसके बाद वह बद्रीनाथ की यात्रा के बाद केदारनाथ पहुंच गए. केदारनाथ की यात्रा करके उन्हें अंदर से बहुत ही ज्यादा ऊर्जा में और प्रसन्नता महसूस हुई. जिसके बाद लौटते वक्त उन्होंने प्रण लिया कि वह अपनी दादी को भी चारधाम की यात्रा कराने लेकर आएंगे.

जिसके बाद उन्होंने यात्रा के लिए 7 साल तक पैसे जमा किए और इस बार अपनी दादी को बस के जरिए ऋषिकेश लेकर पहुंचे. अशोक कुमार ने तीनों धामों के लिए पंजीकरण भी करा लिया है. अशोक कुमार की दादी की उम्र 80 वर्ष है. वह भी इस यात्रा को लेकर बहुत ही ज्यादा उत्साहित और खुश हैं. अशोक कुमार की दादी पहली बार चार धाम की यात्रा करने के लिए आई है. अशोक कुमार जैसे युवा आजकल की पीढ़ी के लिए एक प्रेरणा स्रोत है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here