उत्तराखंड पुलिस भर्ती में भी घपला, दोषियों पर सख्त कार्रवाई के निर्देश

0
26
rigged in uttarakhand police bharti
rigged in uttarakhand police bharti

यूकेएसएससी पेपर लीक मामले (Uksssc Paper leak case) के बाद सरकार ने सभी परीक्षाओं पर रोक लगा दी. साथ ही पुरानी परीक्षाओं को जांच के निर्देश दिए हैं. सचिवालय रक्षक भर्ती परीक्षा में धांधली को लेकर हुई पहली गिरफ्तारी के बाद अब 2015-16 की उत्तराखंड पुलिस एसआई भर्ती (Uttarakhand Police SI Bharti) भी जांच के घेरे में आ गई है.

सीएम धामी (Cm Pushkar Dhami) ने सचिवालय रक्षक भर्ती में पहली गिरफ्तारी के बाद उत्तराखंड पुलिस भर्ती परीक्षा की जांच के आदेश दिए हैं, सीएम ने कहा कि इस मामले में लिप्त सभी आरोपियों पर रासुका तथा गैंगस्टर एक्ट लगाकर संपत्ति जब्त की जाएगी.

बीते शुक्रवार को पुलिस मुख्यालय ने साल 2015 की एसआई भर्ती की जांच किसी विजिलेंस या स्वतंत्र एजेंसी से करवाने का प्रस्ताव रखा था इस प्रस्ताव के बाद संबंधित बैच के दरोगाओं में हड़कंप मच गया. आपकी जानकारी के लिए बता दें जांच के दायरे में आई एसआई भर्ती परीक्षा में कुल 339 रक्त पदों को भरा जाना था. जिसमें 17606 अभ्यर्थी शामिल हुए थे.

पंतनगर विश्व विद्यालय में आयोजित 2015-16 की दरोगा भर्ती को लेकर एसटीएफ की पूछताछ में हाकम सिंह ने कुछ दरोगाओं के नामों का खुलासा किया था. जिसके बाद  पंतनगर विश्वविद्यालय के पूर्व एआरओ से पूछताछ में भी इस भर्ती से जुड़ी कई अहम जानकारियां सामने आई हैं. जिसकी तर्ज पर संबंधित भर्ती के जांच के आदेश दिए गए हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here