गढ़वाल की मुद्रा गैरोला ने UPSC में दोबारा पाई सफलता, पूरा हुआ IAS बनने का सपना..बधाई दें

0
20
Garhwal's Mudra Gairola got success again in UPSC, fulfilled dream of becoming IAS
Garhwal's Mudra Gairola got success again in UPSC, fulfilled dream of becoming IAS

उत्तराखंड की बेटियां ज्यादा सुख सुविधाएं ना होने के बावजूद भी हरि क्षेत्र में अपनी प्रतिभा के दम पर अच्छे नंबर ला रही हैं और अपने परिवार के साथ साथ समूचे प्रदेश का नाम भी रोशन कर रही हैं. ऐसी ही एक होनहार बेटी का नाम मुद्रा गैरोला है. जोकि उत्तराखंड राज्य के करणप्रयाग की रहने वाली है. मुद्रा ने यूपीएससी की परीक्षा में 153वीं रैंक हासिल कर उत्तराखंड और अपने जिले को गौरवान्वित किया है.

जिसके बाद अब वह आईएएस बनकर देश की सेवा करने का कार्य करेंगी. मुद्रा ने 2022 में भी सफलता हासिल करते हुए 163 भी रैंक हासिल की थी. इसके बाद उनका चयन आईपीएस में हुआ था. यूपीएससी की परीक्षा देने वाला हर एक अभ्यर्थी आईएएस बनने का सपना देखता है. जिस कारण से मुद्रा का सपना भी आईएएस अधिकारी बनने का था. अपनी आईपीएस की ट्रेनिंग के दौरान ही मुद्रा ने एक बार फिर से यूपीएससी की परीक्षा दी. जिसके परिणाम स्वरूप इस बार उन्होंने 153 वी रैंक हासिल की है.

इस रैंक को हासिल करने के साथ ही उनका आईएएस बनने का सपना भी पूरा हो गया है. उनकी इस सफलता की वजह से पूरे चमोली जिले में खुशी का माहौल है. मुद्रा गैरोला मूल रूप से उत्तराखंड राज्य के कर्णप्रयाग तहसील के सिमली क्षेत्र में स्थित बांगडी गांव की रहने वाली हैं. मगर वर्तमान में उनका परिवार दिल्ली में रह रहा है. चमोली पुलिस ने भी मुद्रा को बधाई देते हुए एक पोस्ट किया है जिसमें उन्होंने कहा है कि मुद्रा सभी युवाओं के लिए एक प्रेरणा का स्रोत है.

मुद्रा हमेशा से ही आईएएस बनना चाहती थी. और अपने इस सपने को उन्होंने अपनी मेहनत वह पूरी लगन की वजह से हासिल किया है. यूपीएससी की परीक्षा को उत्तीर्ण करके मुद्रा उत्तराखंड की अन्य बेटियों के लिए एक मिसाल बनकर सामने आई है. मुद्रा के घर पर इस वक्त बधाई देने वालों का तांता लगा है और पूरे परिवार व क्षेत्र में खुशी का माहौल है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here