सुहानी जोशी ने इंटर में हासिल किए 92 प्रतिशत अंक,रोजाना 6 KM पैदल चलकर जाती थी स्कूल

0
64
Suhani Joshi secured 92 percent marks in Inter.
Suhani Joshi secured 92 percent marks in Inter. (Image Source: Social Media)

उत्तराखंड राज्य की बोर्ड परीक्षाओं के परिणाम सामने आ गए हैं. जिसमें से बहुत सारे अभ्यर्थियों की कहानी अन्य युवाओं के लिए एक प्रेरणा स्रोत के समान है. जैसे कि बागेश्वर जिले से टॉप करने वाले हाईस्कूल के जीवन जोशी के बाद अब हम आपको सुहानी जोशी की कहानी बताने जा रहे हैं. सुहानी जोशी ने उत्तराखंड बोर्ड की इंटर परीक्षा में 92% अंक प्राप्त किए हैं. सुहानी जोशी आर्ट की छात्रा है.

सुहानी जोशी के पिता राजेश जोशी गांव में ही निजी नौकरी करते हैं. वही उनकी मां मीना जोशी एक कुशल ग्रहणी है. सुहानी जोशी बेतालघाट ब्लॉक के सिम गांव की रहने वाली है. सुहानी जोशी 5 साल पहले अपनी पढ़ाई के लिए अपने गांव सिम से खैरना आई थी. मगर 2 साल पहले आई आपदा में उनका घर शिप्रा नदी में बह गया. जिसमें घर के सामान के साथ-साथ उनकी किताबें भी बह गई.

जिसके बाद सुहानी के परिवार वालों ने सुहानी को गांव वापस बुला लिया. इसके बाद वह रोज 6 किलोमीटर दूर राजकीय इंटर कॉलेज खैरना पढ़ने के लिए जाती थी. शिक्षा हासिल करने के लिए उन्हें रोजाना 14 किलोमीटर की दूरी तय करनी पड़ती थी. जिसमें कि उनका 4 से 5 घंटे का वक्त निकल जाता था. मगर हार ना मानते हुए सुहानी अपनी पढ़ाई के लिए अलग से वक्त भी निकाला करती थी. जिसके परिणाम स्वरूप आज उन्होंने इंटर में 92% अंक हासिल कर लिए हैं. इस बारे में सुहानी का यह कहना है कि वहां चुनौतियों का डटकर सामना करने में विश्वास रखती हैं और उन्हें लिखने में भी काफी ज्यादा रुचि है. वह स्क्रीनिंग राइटिंग करना चाहती है।

इसके साथ ही सुहानी समाज के पिछड़े वर्ग के लिए काम करना चाहती हैं. उत्तराखंड बोर्ड की तरफ से 10वीं की बोर्ड परीक्षा का परिणाम दिनांक 25 मई गुरुवार को जारी कर दिया गया था. इस साल दसवीं मैं उत्तीर्ण प्रतिशत 85.17 रहा है. इस साल उत्तराखंड बोर्ड की दसवीं की परीक्षा में 1,27,844 परीक्षार्थी शामिल हुए थे. जिसमें से केवल 1,08,890 परीक्षार्थियों ने ही सफलता हासिल की है. परीक्षा परिणाम में लड़कों का पास प्रतिशत 81.48 फीसदी है तो वही लड़कियों का पास प्रतिशत 88.94 फीसदी रहा है. इस बार मेरिट सूची में लड़के लड़कियों पर भारी पड़े हैं. टॉप 5 में से 4 स्थानों पर लड़के ही विराजमान है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here