अग्निवीर की शहादत पर मिलते हैं 1 करोड़:परमानेंट सैनिक के मुकाबले सुविधाओं में कितना फर्क; आसान भाषा में समझिए

0
2489
How much compensation does the government give for the sacrifice of Agniveer?
How much compensation does the government give for the sacrifice of Agniveer?

कर्तव्य के दौरान अपने प्राणों की आहुति देने वाले अग्निवीरों के परिजनों को भारत सरकार से एक करोड़ रुपये से अधिक की राशि मिलेगी. यह जानकारी सूत्रों ने रविवार को दी है. दरअसल अग्निवीर गावते अक्षय लक्ष्मण नाम के एक ऑपरेटर की रविवार को सियाचिन ग्लेशियर के खतरनाक इलाकों में ड्यूटी के दौरान जान चली गई. महाराष्ट्र के रहने वाले लक्ष्मण पहले अग्निवीर हैं जिनकी ड्यूटी के दौरान मौत हुई है. भारतीय सेना की फायर एंड फ्यूरी कोर ने शोक संतप्त परिवार के प्रति अपनी गहरी संवेदना व्यक्त की है.

 

सरकारी सूत्रों ने बताया कि ड्यूटी के दौरान अपनी जान देने वाले अग्निवीर के निकटतम परिजन को गैर-अंशदायी बीमा के रूप में 48 लाख रुपए, मुआवजे के रूप में 44 लाख रुपए, अग्निवीर द्वारा योगदान की गई सेवा निधि का 30 प्रतिशत, सरकार द्वारा समान योगदान और उस पर ब्याज के साथ मिलेगा. इसके अलावा परिजनों को मिलने वाली परिलब्धियों में मृत्यु की तारीख से चार साल पूरे होने तक शेष कार्यकाल का भुगतान (₹13 लाख से अधिक) भी शामिल है; शेष शेष कार्यकाल के अनुसार, और सशस्त्र बल युद्ध हताहत निधि से ₹ 8 लाख का योगदान दिया जाएगा.

 

सेना ने जताया दुख, कहा- दुखी परिवार के साथ मजबूती से खड़ी हैभारतीय सेना ने एक्स पर अपने आधिकारिक अकाउंट पर एक संदेश में कहा कि वह दुख की इस घड़ी में शोक संतप्त परिवार के साथ मजबूती से खड़ी है. “सीओएएस जनरल मनोज पांडे और भारतीय सेना के सभी रैंक के लोग सियाचिन की दुर्गम ऊंचाइयों पर कर्तव्य निभाते हुए अग्निवीर (ऑपरेटर) गावते अक्षय लक्ष्मण के सर्वोच्च बलिदान को सलाम करते हैं. भारतीय सेना इस घड़ी में शोक संतप्त परिवार के साथ मजबूती से खड़ी है

 

नौकरी के दौरान अग्निवीरों को कई सुविधाएं

अग्निवीरों को एक नियमित सैनिक की ही तरह हार्डशिप एलाउंस, यूनीफॉर्म एलाउंस, कैंटीन और मेडिकल सुविधा दी जाती है. इसके अतिरिक्त ट्रैवल एलाउंस भी दिया जाता है. अग्निवीरों को साल में 30 दिन की छुटी का भी प्रावधान रखा गया है. इन छुट्टियों के अतिरिकत मेडिकल लीव भी मिलती है. अगर सर्विस के दौरान किसी अग्निवीर की मृत्यु हो जाती है तो इन्श्योरेंस कवर मिलेगा. उसके परिवार को 1 करोड़ रुपए से अधिक की रा‍शि दी जाती है. इसके अतिरिक्त जितनी नौकरी बची है; उसकी सैलरी भी देने का प्रावधान है. नौकरी के दौरान विकलांग होने पर एक्स ग्रेशिया 44 लाख रुपये और साथ ही जितनी नौकरी बची है उसकी सैलरी और सुविधा पैकेज भी दिया जाएगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here