हाईटेंशन तार में फसा सेना का पैराशूट, नेवी कमांडो अंकुश शर्मा की मौत

0
1039

एक बेहद ही दुखद खबर उत्तर प्रदेश राज्य से सामने आ रही है. गुरुवार के दिन पैराशूट जंपिंग के दौरान उत्तर प्रदेश के मालपुरा थाना क्षेत्र मैं एक बड़ा हादसा हो गया. जगनेर रोड में स्थित ड्रॉप जोन से डेढ़ किलोमीटर दूर कस्बे में पैराशूट जंपिंग के दौरान नेवी मार्कोस कमांडो अंकुश शर्मा (26) का पैराशूट हाईटेंशन तार में फस गया.

पैराशूट जैसे ही हाई टेंशन लाइन में फंसा तो मार्कोस कमांडो अंकुश शर्मा पैराशूट से कूद गए. इस तरह कूदने की वजह से वह गंभीर रूप से घायल हो गए. जिसके बाद स्थानीय लोगों ने उन्हें मिलिट्री अस्पताल पहुंचा दिया. मिलिट्री अस्पताल में उपचार के दौरान शुक्रवार को अंकुश शर्मा की मृत्यु हो गई. छुट्टी पर अपने गांव आए सेना के जवान फौरन सिंह ने इस घटना के बारे में बताते हुए कहा कि गुरुवार की रात को उन्होंने एक पैराशूट हाई टेंशन लाइन में आकर फसता हुआ देखा.

जिसकी थोड़ी देर बाद उसमें से एक शख्स नीचे गिरा. जब उन्होंने पास जाकर देखा तो वहां नेवी मार्कोस कमांडो निकले. हाई टेंशन लाइन में पैराशूट फसने पर उन्हें लगा कि वहां ज्यादा ऊंचाई पर नहीं है. जिसके बाद उन्होंने पैराशूट को खोल दिया. जिस वजह से वह नीचे गिर कर गंभीर रूप से घायल हो गए. जिस कारण वह दर्द से बहुत ज्यादा करा रहे थे.

जिसके बाद देखते देखते हैं उनके नाम और मुंह से खून निकलने लगा. जिसके थोड़ी देर बाद उनके साथ ही कमांडो का उनके मोबाइल पर फोन आ गया. इससे उन लोगों को इस हादसे की सूचना दी गई. फौरन सिंह ने यह भी बताया कि उन्होंने अपने फौजी भाई रूपकिशोर और जबलपुर में कार्यरत हवलदार दोस्त धर्मेंद्र सिंह को मदद के लिए बुलाया.

जिसके बाद वह अंकुश शर्मा को बाइक में बैठा कर मालपुर थाने पहुंचे. जहां अंकुश शर्मा के साथी सैनिक एंबुलेंस लेकर पहुंचे हुए थे. जिसकी बात वहां अंकुश शर्मा को इलाज के लिए सैन्य अस्पताल लेकर पहुंचे. वहीं मालपुर थाना प्रभारी तेजवीर सिंह ने इस घटना के बारे में बताते हुए कहा कि शुक्रवार को नेवी मार्कोस कमांडो अंकुश शर्मा इलाज के दौरान शहीद हो गए. अंकुश शर्मा मूल रूप से जम्मू कश्मीर के रहने वाले थे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here