स्क्वाड्रन लीडर कुलदीप सिंह के निधन की खबर सुनकर परिजन बेसुध..

0
120
The family members are shocked to hear the news of the passing away of Squadron Leader Kuldeep Singh.

बीते 8 दिसंबर को तमिलनाडु के कुन्नूर में हुए हेलीकॉप्टर क्रैश में स्क्वाडर्न लीडर कुलदीप सिंह भी शहीद हो गए ।कुलदीप सिंह मूल रूप से राजस्थान के झुंझुनू सिंघाना के रहने वाले थे। आपको बता दें कि शहीद कुलदीप सिंह राव की शादी 2 वर्ष पहले 19 नवंबर 2019 को मेरठ की रहने वाली यश्विनी ढाका के साथ हुई थी ।यश्विनी मेरठ के डीएन कॉलेज में असिस्टेंट प्रोफेसर के पद पर कार्यरत हैं।

अश्विनी ने अपनी बीटेक की पढ़ाई विद्या कॉलेज से पूरी कि व साथ ही राजस्थान के बनस्थली यूनिवर्सिटी से एमटेक पूरा किया। एमटेक पूरा करने के बाद से वह मेरठ के डीएन कॉलेज में कंप्यूटर साइंस विभाग में असिस्टेंट प्रोफेसर के रूप में कार्यरत है। यश्विनी कॉलेज से छुट्टी लेकर 1 साल पहले से पति के साथ रह रही थी ।

यश्विनी की सीनियर डॉक्टर दिव्या शर्मा बताती है कि घटना के दिन यश्विनी का मैसेज आया था कि ” मैं लंच बना रही हूं और कुलदीप कहीं बाहर गए हुए हैं ” जैसे ही शाम को हेलीकॉप्टर क्रैश होने की खबर आई तो मेरी यश्विनि से बात करने की हिम्मत नहीं हुई ।गुरुवार को फिर यश्विनी ने मैसेज कर बताया कि कुलदीप मुझे छोड़ कर चले गए ।

यश्विनी के परिजनों को जैसे ही कुलदीप के निधन की खबर मिली तो वो अपना आपा खो बैठे । यश्विनी की मां सुमित्रा देवी ने कहा कि ” यश्विनी और कुलदीप अभी-अभी 2 महीने पहले ही मेरठ आए थे। दामाद चला गया,अब मेरी बेटी कैसे जिएगी “।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here